June 19, 2018
  • facebook
  • twitter
  • linkedin
  • instagram

योगी आदित्यनाथ के द्वारा हाईस्कूल टॉपर को दिया गया चेक हुआ बाउंस, साथ जुर्माना भी लगा

  • by Ashutosh
  • June 10, 2018

उत्तर प्रदेश में जो न हो वो कम। इसी कहावत को सच किया हिया एक बार फ़िर से उत्तर प्रदेश की सरकार ने। जी हाँ! दरसल, यूपी बोर्ड की दसवीं क्लास के एक टॉपर छात्र, आलोक मिश्रा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ईनाम के रूप में प्रशस्ति पत्र के साथ एक लाख रूपये का चेक भेट किया था।

लेकिन जब आलोक ने परिजनों के साथ जाकर देना बैंक के खाते में जाकर यह चेक लगाया, तब दो दिन बाद बैंक अधिकारियों ने चेक बाउंस होने की सूचना दी। बैंक ने चेक बाउंस होने का कारण साइन का मिलान न हो पाना बताया।

हालांकि इसके बाद शिक्षा विभाग में हडकंप मच गया और छात्र को दूसरा चेक देने का ऐलान किया गया है।

हम आपको बता दें कि बाराबंकी के यंग स्ट्रीम इंटर कॉलेज में पढ़ने वाले आलोक मिश्रा ने दसवीं में 93.5 फीसदी अंक हासिल करके जहाँ जिले में टॉप किया था, वहीं पूरे प्रदेश में वह सातवां स्थान पाने में सफ़ल रहे। टॉप करने पर अलोक को 29 मई को लखनऊ बुलाया गया था, जहां मुख्यमंत्री योगी ने उन्हें एक लाख रुपये का चेक भेंट किया। इस चेक पर बाराबंकी के डिस्ट्रिक्ट इंस्पेक्टर ऑफ स्कूल, राजकुमार यादव के हस्ताक्षर थे।

आलोक के अनुसार,

“मुख्यमंत्री से चेक मिलने पर मैं वाकई बहुत खुश था, चेक जमा करने के दो दिन बाद पता चला कि चेक बाउंस हो गया है, जिसकी वजह से हमें थोड़ी निराशा हुई, बैंक ने चेक बाउंस होने की वजह चेक पर हुए हस्ताक्षर में मिसमैच बताया है”

वहीँ डीआईओएस राजकुमार यादव ने कहा,

“चेक बाउंस होने की वजह हस्ताक्षर में मिसमैच बताया गया है, लेकिन दूसरा कोई छात्र ऐसी समस्या लेकर नहीं आया है, छात्र को दूसरा चेक जारी कर दिया गया है”

वही बाराबंकी के डीएम, उदय भानू त्रिपाठी ने इस विषय पर कहा,

“यह बहुत गंभीर मामला है, और अगर गलती पाई जाती है तो कार्रवाई होगी’’

Previous «
Next »

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *